Shayari

तस्वीर बनाओ तो ….

Please click Here for more…

1 तस्वीर बनाओ तो सब रंग भरना..!!

पर…
जब आँखे बनाओ
तो उनके इंतजार में आँसू रवाँ रखना..!!

2। बदनाम तो घुंघरू को मौका परस्ती ने कर दिया,

वरना मीरा की इबादत थे घुंघरू !!

3। होती है मुझ पर रोज
तेरी रहमतों के रंगों की बारिश

मैं कैसे कह दूँ —- ” मेरे मालिक
होली साल में एक बार आती है !!

4 उसको भी जीत का गुमान रहे,
मैं भी कुछ इस हिसाब से हारा !!


5, मैं एक सदी से बैठी हूँ, इस राह से कोई गुज़रा नहीं
कुछ चाँद के रथ तो गुज़रे थे, पर चाँद से कोई उतरा नहीं

दिन रात के दोनों पहीयें भी, कुछ धूल उड़कर बीत गये
मैं मन आँगन में बैठी रही, चौखट से कोई गुज़रा नहीं

आकाश बड़ा बूढ़ा बाबा, सब को कुछ बाँट के जाता हैं
आखों को निचोड़ा मैंने बहोत पर कोई आँसू उतरा नहीं

-गुलज़ार 

कुछ चुनिदा शेर है:-

जंगली जड़ी बूटी सा हूँ …